dard e shayari, bewafa shayari hindi mai, दर्द ए शायरी, बेवफा

Share This

heart touching Shayari in Hindi, Shayari in Hindi for girlfriend, dard e Shayari, bewafa Shayari Hindi Mai, दर्द ए शायरी, sad shayari hindi me, बेवफा शायरी, best Hindi Shayari website daily new Hindi and English font Shayari, Dard e Shayari posted like and share your friends, comments for best Shayari collection read to continue.

dard e shayari, bewafa shayari hindi mai,

heart touching Shayari in Hindi,

माना कि तुझको मै हासिल न कर सका,,

मोहब्बत थी तुझसे बयां न कर सका,,

पर किसी को पा लेना ही “मुहोब्बत” नहीं होता,,

चाहे मै तेरे काबिल न बन सका….!!

**********

bewafa hindi shayari,

मेरी आंखों मैं तुम अपनी दुनिया बसा लेना,,

मेरे दिल मैं तुम अपना घर बना लेना,,

तेरे दिल मैं बसी हैं जान मेरी,,

तुम अपनी जान को मेरी जान बना लेना….!!

*********

sad shayari,

मोहब्बत मैं किसी का “इंतजार मत” करना,,

हो सके तो आप किसी से ( प्यार ) मत करना,,

कुछ नहीं मिलता “मुहोब्बत” कर के,,

अपनी जिंदगी को बर्बाद मत करना….!!

*********

broken heart hindi shayari,

क्यो वो रूठे इस कदर कि मनाया न गया,,

दूर इतने हो गयें कि पास बुलाया न गया,,

दिल तो दिल था कोई ( समुन्दर ) का साहिल नहीं,,

लिख दिया जो नाम वो फिर मिटाया न गया….!!

*********

sad shayari in hindi,

शहर क्या देखें  के हर मंज़र मैं ( जाले ) पड़ गयें​,,

ऐसी गर्मी हैं  कि लाल ( फूल काले ) पड़ गयें​,,

में अँधेरों से बचा लाया था अपने आप को​,,

मेरा दुख यह है  मेरे पीछे ( उजाले ) पड़ गयें….!!

********

very sad shayari,

दिया दियें से जला लूं तो सुकून आएं मुझे,,

तुम्हें गले से लगा लूं तो चैन आएं मुझे,,

मुहोब्बतों के सहीफ़े हैं या अज़ाब कोई,,

तेरे खतों को जला लूं तो चैन आएं मुझे….!!

********

dard e shayari, bewafa shayari hindi mai

sad love dard e shayari,

हम उम्मीदों की दुनियां बसाते रहे,,

वो भी पल पल हमें आज माते रहे,,

जब मुहोब्बत मैं मरने का वक्त आया,,

हम मर गए और वो मुस्कुराते रहे….!!

********

best poetry in urdu,

ज़ख्म जब मेरे सीने के भर जायेंगे,,

आंसू भी मोती बन के बिखर जायेंगे,,

ये मत पूछना किसने दर्द दिया,,

वरना कुछ अपनों के सर झुक जायेंगे….!!

*******

दर्द भरी शायरी,

दिल मैं है जो दर्द वो दर्द किसे बतायें,,

हंसते हुवे यह ज़ख्म किसे दिखायें,,

कहती है यह दुनिया हमे खुश नसीब,,

मगर इस नसीब की दास्ता किसे बतायें….!!


Share This