khushi aur gam hindi shayari

khushi aur gam hindi shayari : खुशी और गम शायरी

khushi aur gam hindi shayari : खुशी और गम शायरी, ख़ुशी शायरी 2 लाइन. हंसी खुशी शायरी. खुशी और गम हिंदी शायरी. ख़ुशी हिंदी स्टेटस. खुशी के पल कविता. खुशी शायरी गुलजार. शुद्ध हिंदी शायरी.

 

khushi aur gam hindi shayari

 

दो पल की ख़ुशी मिली उसके प्यार मैं

फिर मैं उम्र भर रोई

आंसू तब जाकर थामे मेरे

जब मैं मौत की आगोश मैं सोई…!!

 

******

 

do pal ki khushi milee uske pyaar main,

phir main umar bhar roi,

aansoo tab jaakar thame mere,

jab main maut ki aagosh main soi…!!

 

******

खुशी के पल स्टेटस

 

यूं आये जिंदगी में कि ख़ुशी मिल गई..

मुश्किल राहों में चलने की वजह मिल गई,

हर एक लम्हा खुशनुमा बना दिया..

मेरी उम्मीद को नई मंजिल मिल गई…!!

 

******

You Aaye Zindagi Mein Ki Khushi Mil Gai

Mushkil Rahon Main Chalne Ki Wajah Mil Gai

Har Ek Lamha Khushnuma Bna Diya

Meri Ummeed Ko Nai Manzil Mil Gai..!!

 

*****

खुशी शायरी गुलजार

 

यह चेहरे की ख़ुशी सिर्फ़..

तेरे इन्तजार की हैं..

क्योकि दिल में आज भी

उम्मीद तेरे दीदार की हैं…!!

 

*****

 

Yeh Chehre Ki Khushi Sirf..

Tere Intezaar Ki Hai..

Kyon Ki Dil Main Aaj Bhi,

Ummeed Tere Didar Ki Hai..!!

 

*****

 

तुम्हारी खुशियों के ठिकाने बहुत होंगे मगर

हमारी बेचैनियों की वजह बस तुम ही हो…!!

 

*****

 

Tumhari Khushiyon Ke Thikane Bahut Honge Magar

Hamari Bechainiyon Ki Wajah Bas Tum Hi Ho…!!

 

******

दोस्त की खुशी के लिए शायरी

 

जीने की उसने हमे नई अदा दी है,

खुश रहने की उसने दुआ दी है…

ऐ खुदा उसको खुशियाँ तमाम देना,

जिसने अपने दिल मे हमें जगह दी है…!!

 

*****

 

Jeene ki usne hame nai ada di hai

Khush rahne ki usne dua di hai

Aye khuda usko khushiyaan tamaam dena,

Jisne apne dil main hame jagah di h…!!

 

******

 

लबों पर यूँ  ही सी हँसी भेजदे,

मुझे मेरी पहली ख़ुशी भेजदे…

अँधेरा है कैसे तेरा ख़त पढ़ूँ,

लिफ़ाफ़े में कुछ रौशनी भेजदे…!!

 

******

 

Labon par yuhi si hansi bhej de

Mujhe meri pehli khushi bhej de

Andhera hai kaise tera khat padhoon

Lifafe mein kuch roshni bhej de…!!

 

******

खुशी और गम शायरी

 

क़भी चुपके से मुस्कुरा कर देखना

दिल पर लगे पहरे हटा कर देख़ना…!

यह ज़िन्दग़ी तेरी खिलखिला उठेगी

ख़ुद पर कुछ लम्हें लुटा कर देखना…!!

 

******

 

Kabhi chupke se muskura kar dekhna

Dil par lage pehre hata kar dekhna

Yeh zindagi teri khilkhila uthegi

Khud par kuch lamhe luta kar dekhna…!!

 

******

 

इन्ही ग़म की घटाओं से

ख़ुशी का चाँद निकलेगा

अँधेरी रात के पर्दे में

दिन की रौशनी भी है…!!

 

*****

 

Inhi gam ki ghataon se

Khushi ka chaand nikalega

Andheri raat ke parde mein

Din ki roshni bhi hai…!!

 

*****

खुशी पर अनमोल विचार

 

छोटी सी ज़िन्दगी है

हर बात में खुश रहो,

कल किसने देखा है

बस अपने आज में खुश रहो..!!

 

*****

 

Chhoti si zindagi hai

Har baat main khush raho

Kal kisne dekha hai

Bas apne aaj main khush raho…!!

 

*****

khushi aur gam hindi shayari

 

मानते हैं सारा जहाँ तेरे साथ होगा,

खुशी का हर लम्हा तेरे पास होगा,

जिस दिन टूट जाएँगी साँसे हमारी,

उस दिन तुझे हमारी कमी का एहसास होगा…!!

 

******

khushi aur gam hindi shayari

 

Maante hai saara janha tere saath hoga

Khushi ka har lamha tere paas hoga

Jis din toot jayengi saanse hamari

Us din tujhe hamari kami kaa ehsaas hogaa…!!

 

******

बस इतनी सी बात है,

तुम साथ होते हो जब मेरे,

खुश तो रहते है गम मेरे,

तुम शामिल होती हो मेरी हर बात में,

ऐसे ख़ास नहीं है सब मेरे…!!

 

******

 

Bas itni si baat hai

Tum saath hote ho jab mere

Khush to rahte hai gam mere

Tum shamil hoti ho meri har baat mein

Aise khas nhi hai bas mere…!!

 

******

 

आपकी पसंद हमरी चाहत बन जाये,

आपकी मुस्कान दिल की राहत बन जाये,

खुदा खुशियों से इतना खुश कर दे आपको,

कि आपको खुश देखना हमारी आदत बन जाए…!!

 

******

 

Aapki pasand hamri chaaht ban jaaye

Aapki muskaan dil ki raaht ban jaaye

Khuda khushiyon se itna khush kar de aapko

Ki aapko khush dekhna hamari aadat ban jaaye..!!

 

*****

ख़ुशी शायरी 2 लाइन

 

कोई काश उनसे पूछे जो ग़मों से भागते हैं

वो कहाँ पनाह लेंगे जो ख़ुशी न रास आई…!!

 

*****

 

Koi kaash unse pooche jo gamon se bhaagte hai

Wo kaha panah lenge jo khushi na raas aai…!!

 

******

khushi aur gam hindi shayari

वक़्त की ख़ुशी शायरी

 

वक़्त और खुशी तेरे गुलाम होंगे,

हर पल और पहलू तेरे ही नाम होंगे,

ज़रा मूड कर देखना मेरे दोस्त,

तेरे हर कदम के नीचे मेरे हाथो के निशान होंगे…!!

 

*****

 

Waqt or khushi tere gulaam honge

Har pal or pehlu tere hi naam honge

Jara mood kar dekhna tere dost

Tere har kadam ke niche mere haathon ke nishaan honge…!!

 

*******

तेरी खुशी में मेरी ख़ुशी शायरी

 

जरा सी बात देर तक रुलाती रही

ख़ुशी मैं भी आँखें आंसू बहाती रही

जिसे चाहा वो मिल कर भी ना मिला

जिंदगी बस हम को युही आज़माती रही…!!

 

*****

 

Zara Si Baat Der Tak Rulati Rahi,

Khushi Mein Bhi Aankhein Aansu Bahati Rahi,

Jise Chaha Wo Mil Kar Bhi Na Mila,

Zindagi Bas Hum Ko Yuhi Azmati Rahi…!!

 

******

खिलते फूल जैसे लबों पर हंसी हो

ना कोई गम हो ना कोई बेबसी हो

सलामत रहे जिंदगी का यह सफर

जहाँ आप रहे वहाँ बस खुशी ही खुशी हो…!!

 

******

 

Khilte phool jaise labon par hansi ho

Na koi gam ho na koi bebasi ho

Salamat rahe zindagi ka yeh safar

Jaha aap rahe vaha bas khushi hi khushi ho…!!

 

*****

 

ख़ुश हूँ कि मुझको जला के तुम हँसे तो सही,

मेरे न सही किसी के दिल में बसे तो सही…!!

 

******

 

Khush hoon ki mujhko jala ke tum hanse to sahi

Mere na sahi kisi ke dil mein base to sahi…!!

 

*****

 

अपने दम ख़म पर सब करके दिखा देंगे

हौसलों की उड़ान के साथ आसमा तक हिला देंगे

खुशियों के तारे आँचल में पिरोये हैं

साथ हो जिन्दगी का तो इन्हें सबमे बटवा देंगे…!!

 

*******

Khushi khud khushi hindi shayari

 

Apne dum kham par sab karke dikha denge

Hauslo ki udan ke saath aasma tak hila denge

Khushiyon ke taare aanchal main piroyen hai

Saath ho zindagi ka to inhe sabme batva denge…!!

 

*****

 

गुलाब अपनी खुशबू को

मेरे दोस्तों पर निछावर करदे

यह सर्दी के मौसम मैं

अक्सर नहाया नहीं करते…!!

 

******

 

Aye Gulaab Apni Khushbu Ko

Mere Doston Par Nichaawar Kar De

Yeh Sardi Ke Mausam Mein

Aksar Nahaya Nahi Karte…!!

 

******

 

इस संसार में हर किसी को

अपना प्यार नहीं मिलता और हर किसी

को गम नहीं मिलता और हर

किसी को खुशियां भी नहीं मिलती…!!

 

******

khushi aur gam hindi shayari

 

Is sansaar mein har kisi ko

Apna pyar nahi milta or har kisi ko

Gam nahi milta or har

Kisi ko khushiyaan bhi nahi milti…!!

 

******

 

चलो कोई निशा ढूँढ़ते हैं,

दिल का बहता हुआ कारवा ढूँढ़ते हैं,

मुद्दत हो गयी है मुस्कराये हुए,

चलो खुशी का कोई जहां ढूँढ़ते हैं…!!

 

******

 

Chalo koi nisha dhoondhte hai

Dil ka bahta hua karva dhoondhte hai

Muddat ho gai hai muskaye huye

Chalo khushi ka koi janha dhoondhte hai…!!

 

*****

 

रिश्ते बनाने के लिए सिर्फ एक पल चाहिए,

पर उसे निभाने के लिए एक दिल चाहिए,

खेलता तो सागर भी है लेहेरों से पर,

उसे थामने के लिए भी साहिल चाहिए…!!

 

******

khushi aur gam hindi shayari

 

Rishte banana ke liye sirf ek pal chaahiye

Par use nibhaane ke liye ek dil chaahiye

Khelta to saagar bhi hai lehron se par

Use thaamne ke liye bhi saahil chahiye…!!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *