beparwah Aakhri mohabbat Shayari in hindi, बेपरवाह आखरी मोहब्बत शायरी

beparwah Aakhri mohabbat Shayari in hindi. कोई रिश्ता जो न होता तो वो खफा क्यों होता. बेपरवाह आखरी मोहब्बत शायरी इन हिंदी, यह बेरुखी उसकी मोहब्बत का पता देती है. bepanah mohabbat hai beparwah logon se. वह लोग ही बिछड़ गए जो कभी हमारी जिंदगी हुआ करती थी हिंदी में मतलब. हमें कहां पता था कि मोहब्बत हो जाएगी.. इश्क मोहब्बत वाली शायरी. तुमसे हमें तो बस तुम्हारा मुस्कुराना अच्छा लगता था..

 

beparwah Aakhri mohabbat Shayari in hindi

 

ख्वाबों मे तेरा हाथ पकड़ कर रोज घूमती हूँ

जब ख्वाब टूटता हैं तो

सबसे पहले अपना हाथ चूमती हूँ..!!

*******

तुम्हें देखते हैं तो

दिल में ऐसी दस्तक होती है,

जैसे सागर में लहरों की हलचल होती है,

सोचा था कभी तुम्हें बता ना पाएंगे,

इन आँखों में तुम्हारी

सूरत हर पल होती है…!!

********

beparwah Aakhri mohabbat Shayari in hindi, बेपरवाह आखरी मोहब्बत शायरी

beparwah Aakhri mohabbat

 

यूँ पलके बिछा कर

तेरा इंतज़ार करते है,

यह वो गुनाह है जो

हम बार बार करते हैं,

जल कर हसरत की राह पर चिराग,

हम सुबह ओर शाम तेरे मिलने

का इंतज़ार करते हैं…!!

*******

यह भी पढ़ें :-

beparwah Aakhri mohabbat Shayari hindi

 

कभी किसी के पीछे मत पड़ना

जिसको हमारी सच में फिक्र

होगी या मोहब्बत होगी तो

वो खुद पे खुद चल कर आपके पास आ जायेगा…!!

*******

सामने बैठे रहो यूँ ही दिल को करार आयेगा,

जितना देखेंगे हम तुम्हे उतना ही प्यार आयेगा..!!

*******

तुम्हे पाना चाहती हूं  खोना नहीं

तुम्हारे संग हंसना चाहती हूं

जुदा होकर रोना नहीं

हमारी मोहब्बत को बस

इतना समझ साजना

तुम्हारे संग जीना चाहती हूं

महज़ बिस्तर पर सोना नहीं…!!

*******

beparwah Aakhri mohabbat Shayari

 

ना मैं ख्याल में तेरे ना मैं गुमान में हूँ

यकीन मानो दिल को नहीं है कि इस जहान में हूँ

खुदाया रखियेगा दुनिया में सरफ़राज़ हमें

मैं पहले इश्क़ के पहले इम्तिहान में हूँ…!!

********

यह भी पढ़ें :-

 

निगाहों से खीची है तस्वीर मैने,

जरा अपनी तस्वीर आकर तो देखलो,

आपको इन आँखो में आपको दिखाऊँ,

इन आँखो से आँखे मिलाकर तो देखलो..!!

******

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

beparwah Aakhri mohabbat Shayari in hindi, बेपरवाह आखरी मोहब्बत शायरी